वसीम रिजवी को सुप्रीम कोर्ट का झटका, ठोका 50 हजार का जुर्माना - खडे बोल

Latest

HINDI NEWS | LATEST NEWS | BIG BREAKING NEWS |

सोमवार, 12 अप्रैल 2021

वसीम रिजवी को सुप्रीम कोर्ट का झटका, ठोका 50 हजार का जुर्माना

वसीम रिजवी को सुप्रीम कोर्ट ने दिया झटका, ठोका 50 हजार का जुर्माना





नई दिल्ली : कुरान से 26 आयतें हटाने की याचिका सुप्रीम कोर्ट में खारिज, वसीम रिजवी पर ठोका 50 हजार का जुर्माना उन्होंने कहा था कि इन आयतों को बाद में कुरान में जोड़ा गया है। रिजवी के इस कदम के बाद से मुस्लिम समाज में उनके खिलाफ उबाल है ।




सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने कुरान से 26 आयतें हटाने से जुड़ी एक जनहित याचिका सोमवार को खारिज कर दी है । इसी के साथ ही याचिकाकर्ता वसीम रिजवी पर 50 हजार रुपये का जुर्माना भी सुप्रीम कोर्ट की और से लगाया गया है ।



इस याचिका के दायर करने पर संपूर्ण भारत भर में वसीम रिजवी के खिलाफ़ कारवाई करने की मांग की गई थी । अनेकों जगहोंपर रिजवी के पुतले जलाकर अपना विरोध दर्शाया गया था ।




शिया वक्‍फ बोर्ड के पूर्व अध्‍यक्ष वसीम रिजवी (Waseem Rizvi) ने जनहित याचिका (PIL) सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में दाखिल की थी । उस याचिका के अंदर मांग की थी क‍ि,  कुरान शरीफ की 26 आयतों को हटाया जाए । वसीम रिजवी के मुताबिक, ये खास आयतें मनुष्‍य को हिंसक बनाकर, आतंकवाद को बढ़ावा दे रही है ।

याचिका में वसीम रिज़वी ने दावा किया था कि इन्‍हीं आयतों को कोट करके दुनिया के लोग आतंकी बनाए जाते हैं ।  वसीम रिजवी ने 26 आयतों का खास तौर से जिक्र करते हुए कहा था कि इससे कट्टरता और आतंकवाद को बढ़ावा मिल रहा है। उन्होंने कहा था कि इन आयतों को बाद में कुरान में जोड़ा गया है ।


खबरों के मुताबिक वसिम रिजवी अपने आप को क़ानूनी कारवाई से बचाने के लिए मुस्लिम विरोधी बातों को तुल देते आ रहे है । चाहे वह राम मंदिर का मुद्दा हो या अन्य कोई मुद्दा,  उनका रूख़ बीजेपी के पक्ष में साफ दिखाई देता है । जनता और राजनीतिक दलों को चाहिए के ऐसे जनता में सांप्रदायिकता को बढ़ावा देने वाले लोंगो से दुरी रखनी चाहिए ।

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग ने इसे सांप्रदायिक सौहार्द्र बिगाड़ने की कोशिश करार दिया है । वहीं शिया और सुन्नी दोनों ही पंथ के लोग रिजवी के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए उन्हें मुस्लिम समुदाय से निकाले जाने की घोषणा कर चुके हैं । बरेली में उनके खिलाफ धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का केस दर्ज हुआ । वहीं मुरादाबाद के एक वकील ने रिजवी का सिर काटकर लाने पर 11 लाख रुपये का इनाम रखा ।


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

धन्यवाद् आपकी राय महत्वपूर्ण है ।